Categories
Uncategorized

हमारी बेटी

निशा का आज पहला दिन था ससुराल में।निशा की सास विमला सारी रस्में पूरी कर रही थी।आस पड़ोस की बहुत सारी औरतें निशा को देखने आई हुई थी। विमला जी ने निशा की तरफ इशारा किया कि,,सबके पैर छू कर आशीर्वाद लो किन्तु निशा को कुछ समझ नहीं आया। तब विमला जी बोली,,आजकल की लड़कियां […]

Categories
Blogs samajik kahaniyan

अपराधी कौन

अपराधी कौन आज की युवा पीढ़ी Internet की बहुत ज़्यादा आदी हो चुकी है।ऐसा नहीं है कि,वो जानबूझकर इसकी तरफ़ आकर्षित हो रही है बल्कि आज के आधुनिक दौर में Internet का इस्तेमाल ज़रूरी हो गया है। Internet का इस्तेमाल इसलिए बढ़ रहा है क्योंकि पूरी दुनिया डिजिटल होती जा रही है और जो लोग […]

Categories
Blogs samajik kahaniyan

कश्मकश

कश्मकश कभी-कभी इन्सान इस कश्मकश में उलझ जाता है कि,कौन अपना है और कौन पराया। अपने  है कौन?आख़िर क्या परिभाषा है अपनो की?जो हमारे साथ रहते है क्या वो अपने हैं?या फिर वो अपने हैं जो ache बुरे समय में हमारे साथ खड़े रहे?कौन हैं अपने? Inhi सवालों के जवाब में उलझी हुई थी अमर […]

Categories
Blogs samajik kahaniyan

त्रियाँ चरित्र

त्रियाँ चरित्र का मतलब है,,जब औरत कुछ करने की ठान लेती है तो वो उसे करके रहती है,,चाहे उसके लिए उसे कितनी ही मुश्किलों का सामना क्यों ना करना पड़े। कहते है,,भगवान ने औरत को बहुत फ़ुर्सत से बनाया और उसके भावनाएँ डाली,जिससे की वो एक ache समाज का निर्माण कर सके।औरत एक माँ है,,बहन […]

Categories
Blogs samajik kahaniyan

फैसला___faisla

फैसला___faisla ओमप्रकाश जी अब रिटायर हो चुके थे।अपनी पत्नी नंदिनी के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने का सोचते। बड़ा बेटा अनिल विदेश में था और छोटा बेटा सुभाष साथ ही रहता था। सुभाष की सरकारी नौकरी थी।सुभाष की पत्नी तारा भी नौकरी करती थी।घर में काम करने के लिए नौकर थे।किसी को कोई तकलीफ़ […]

Categories
Blogs history

महाराष्ट्र के प्रथम स्वतंत्रता सेनानी

पहले अध्याय में आपने पढ़ा,,कैसे मराठों का उदय हुआ। महाराष्ट्र नाम कैसे पड़ा और मराठों का मुख्य उद्देश्य क्या था।ये सब पहले अध्याय में है।उसका लिंक आपको नीचे मिल जाएगा। इस अध्याय में आप पढ़ेंगे कि,,, महाराष्ट्र के प्रथम स्वतंत्रता सेनानी कौन थे।इस संग्राम को आगे किसने बढ़ाया। शाहजी भोंसले महाराष्ट्र में स्वतंत्रता संग्राम के […]

Categories
Blogs Mythgology

महर्षि वाल्मीकि__maharishi valmiki

महर्षि वाल्मीकि__maharishi valmiki कौन थे महर्षि वाल्मीकि?सभी ऋषियों को अधिकतर ऋषि,,मुनि और ब्रह्मऋषि कहा जाता है लेकिन महर्षि वाल्मीकि को ही महर्षि क्यों कहा जाता है?ऋषि बनने से पहले ये कौन थे?क्या करते थे?इनका नाम वाल्मीकि क्यों पड़ा?इन्हे महर्षि की उपाधि कैसे और क्यों मिली?ये सब बाते इसमें जानेंगे। इन सब बातो के बारे में […]

Categories
Blogs history

मराठों का अभ्युदय__maraathon ka utthan ya abhyuday

मराठों का अभ्युदय__maraathon ka utthan ya abhyuday मराठा कौन थे?maratha kaun the? Maratha shabd maha ratt shabd se bna h.maha ka arth hota h Vishal aur ratt ka arth hota h rashtra isliye use Maharashtra kaha jata h.maharashtra sanskrit ka shabd h,jo maha ratt se bna h. मराठा शब्द महा रट्ट शब्द से बना है।महा […]

Categories
Blogs samajik kahaniyan

घर की लक्ष्मी

उपासना को लड़का देखने आने वाला था।उपासना तैयार हो रही थी।उसकी मम्मी शीला जी और भाभी रेणु रसोई में खाने की तैयारियों में जुटी हुई थी। तभी दरवाज़े की घंटी बजी और नौकर  ने दरवाज़ा खोला।मेहमान आ चुके थे।उपासना की मम्मी शीला जी ने रेणु से कहा,,,जा बेटी देख तो उपासना तैयार हुई या नहीं। […]

Categories
Blogs Mythgology

कहानी,शकुन्तला और दुष्यन्त की_kahani Shakuntla aur Dushyant ki

ri पिछले 3 अध्याय में आपने विश्वामित्र के बारे में पढ़ा।इस अध्याय में हम शकुन्तला और दुष्यन्त के बारे में पढ़ेंगे। कौन थी शकुन्तला_kaun thi shakuntla शकुन्तला,,विश्वामित्र और मेनका की पुत्री थी।जब मेनका देवलोक वापिस चली गई तब अपनी पुत्री शकुन्तला को मुनि विश्वामित्र की गोद में दे गई। विश्वामित्र को ब्रह्मऋषि बनना था इसलिए […]

Categories
Blogs Mythgology

कहानी विश्वामित्र की_अध्याय तीसरा

कहानी विश्वामित्र की_अध्याय तीसरा पहले अध्याय में आपने पढ़ा राजा विश्वामित्र की विजय यात्रा  राजा विश्वामित्र का मुनि वशिष्ठ के आश्रम में आना मुनि वशिष्ठ से कामधेनु गाय की पुत्री नंदिनी को विश्वामित्र द्वारा मांगना मुनि वशिष्ठ का नंदिनी को देने से इंकार करना मुनि वशिष्ठ और विश्वामित्र का युद्ध विश्वामित्र का मुनि वशिष्ठ से […]